Indian Railway main logo Welcome to Indian Railways
View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

विभाग

समाचार

रे.वि.के अधीकृत ठेकेदार

निविदा सूचना

भा०रे० कार्मिक

हमसे संपर्क करें



Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
सर्तकता

सतर्कता संबंधित जानकारी

 

केन्द्रीय रेल विद्युतीकरण संगठन के सतर्कता विभाग का नेतृत्व वरिष्ठ उप महाप्रबंधक  के द्वारा किया जाता है जो कोर के लिए मुख्य सतर्कता अधिकारी हैं।

कृप्या यहाँ ईमानदारी शपथ ग्रहण करने के लिए क्लिक करें Integrity Pledge  e-Pledge

यदि आपने रेल्वे कार्यप्रणाली के दौरान किसी प्रकार की नाइंसाफी/भ्रष्टाचार पर ध्यान दिया है या दुर्भावनाओ को रोकने/कम करने का सुझाव दिया है , तो कृप्या हमें सूचित करें।

यदि आप, एक आम जनता या रेल उपयोगकर्ता या रेल्वे कर्मचारी के रूप में किसी भी रेल्वे कर्मचारी को रिश्वत मांगने या अन्य भ्रष्ट वयवहार में लिप्त पाते हैं तो कृप्या नीचे दिये गए सतर्कता विभाग /कोर के टेलीफ़ोन नंबर पर संपर्क कर हमें इसकी सूचना देने का कष्ट करें।

नीचे दिये गए नंबरों पर किसी भी कार्य दिवस के दौरान सूचना दी जा सकती है ।

टेलीफ़ोन/फ़ैक्स नंबर: 0532-2407417

सतर्कता हेल्पलाइन : 139

ई-मेल : pssdgm@core.railnet.gov.in

पता: मुख्य सतर्कता अधिकारी, केन्द्रीय रेल विद्युतीकरण संगठन, प्रथम तला, 1 नवाब युसुफ रोड, सिविल लाइंस , प्रयागराज -211001, उत्तर प्रदेश 

 

सतर्कता विभाग के अधिकारियों का टेलीफ़ोन नंबर 

नाम तथा पद  टेलीफ़ोन नंबर 

वी. के. गर्ग 

वरिष्ठ उप महाप्रबंधक एवं 

मुख्य सतर्कता अधिकारी

0532 -2407417

पुलकित श्रीवास्तव

उपमुख्य सतर्कता अधिकारी 

0532-2408534

जितेंद्र कुमार 

सहायक सतर्कता अधिकारी 

-

CVC Portal

Vigilance Manual 2018

Vigilance Directorate



Source : कोर की आधिकारिक वेबसाइट पर आपका स्वागत है CMS Team Last Reviewed on: 10-06-2021  

  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.